बिहार बोर्ड की गलतियों का खामियाजा भुगत रहे परीक्षार्थी, बोर्ड कार्यालय पहुंच किया हंगामा

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd, archives Live Bihar Live India

Patna: बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने इंटर का रिजल्ट जारी कर दिया है। इस बार जहां इंटर के रिजल्ट में लगभग 10 लाख परीक्षार्थियोंने सफलता हासिल की। वहीं तीन लाख परीक्षार्थी असफल रहे। जिसके बाद फेल हुए परीक्षार्थी ने सोमवार को बोर्ड कार्यालय पहुंचे और हंगामा शुरू कर दिया।

दरसल बिहार बोर्ड का मुख्य कार्य 10वीं एवं 12वीं के परीक्षार्थियों की परीक्षा लेना एवं रिजल्ट जारी करना है। बोर्ड ने परीक्षा तो ली लेकिन अंक चढ़ाना भूल गया। जहां कई छात्र एवं छात्राएं बोर्ड की गलतियों के कारण फेल हुए। जिसके बाद फेल परीक्षार्थी ने बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के गेट पर सुबह से दोपहर तक हंगामा जारी रहा। बोर्ड प्रशासन ने हंगामे के मद्देनजर पहले से ही काफी संख्या में पुलिस बल बुला लिया था। इससे छात्रों को अधिक हंगामा करने का मौका नहीं मिला। पुलिस के जवानों ने हंगामा कर रहे छात्रों को जबरन बोर्ड कार्यालय के गेट से हटा दिया।

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives, Live Bihar

उधर राजधानी के बीएनआर महिला कॉलेज, गुलजारबाग की छात्रा पूजा कुमारी का कहना है कि उसके इंटर के रिजल्ट में प्रायोगिक परीक्षा के अंकों को शामिल नहीं किया गया। परीक्षा में उसे असफल घोषित कर दिया गया। पूजा का रौल नंबर 17004 एवं रोल कोड 19010052 है। उसके भौतिकी एवं रसायन के प्रायोगिक परीक्षा के अंक नहीं जोड़े गए हैं। वहीं गया के वजीरगंज के कपूर रविदास का कहना है कि परीक्षा बेहतर जाने के बावजूद बोर्ड ने फेल कर दिया है। अब स्क्रूटनी के लिए आवेदन किया है। साथ ही सूचना के अधिकार के तहत कॉपी की भी मांग की है। कपूर रविदास का रोल नंबर 21011 है। रोल कोड 19010533 है। भागलपुर की खुशबू कुमारी को एक अंक से फेल है। उसे 29 अंक मिले हैं। अगर बोर्ड अन्य परीक्षार्थियों की तरह खुशबू को भी ग्रेस दे तो वह भी मात्र एक अंक से पास हो सकती है। पूजा का रौल कोड 71030 एवं रौल नंबर 19030141 है।