शराब पीकर पहुंचा ट्रेन चालक, पटना जंक्शन से हुआ गिरफ्तार, बाल-बाल बचे रेल यात्री

quaint media

PATNA : पटना जंक्शन से अजीमाबाद जाने वाली ट्रेन का सहायक लोको पायलट (ड्राइवर) शराब के नशे में पहुंच गया। गाड़ी चलाने से पहले अंतिम समय में क्रू लॉबी में लगे ऑटोमेटिक ब्रेथ एनालाइजर मशीन से हुई जांच में वह पकड़ा गया।

मशीन ने उसकी ड्यूटी को ब्लॉक कर दिया। इसके बाद आनन-फानन में दूसरे ड्राइवर को ड्यूटी पर लगाया गया। तब जाकर ट्रेन रवाना हो सकी। क्रू लॉबी के विश्वस्त सूत्रों के अनुसार अजीमाबाद एक्स्प्रेस ट्रेन में सहायक पायलट विष्णु कुमार की ड्यटी लगी थी। रात 10 बजे बीए टेस्ट में निर्धारित मात्रा .13 से काफी अधिक अल्कोहल लेने की पुष्टि हुई। मशीन ने ऑटोमैटिक तरीके से उसकी ड्यूटी आईडी को ब्लॉक कर दिया। उसके बाद दूसरे ड्राइवर को तैनात कर विष्णु को मेडिकल जांच के लिए रोका गया, लेकिन वह स्टेशन से कहीं गायब हो गया। उसकी मेडिकल जांच रात में नहीं हो सकी।

wine

अचानक स्टेशन से गायब क्यों हो गया : क्रू लॉबी के प्रभारी देवेंद्र प्रसाद ने कहा कि सुबह वह आया और बताया कि उसने होम्योपैथिक दवा ली थी। हालांकि वह यह नहीं बता पाया कि जब दवा ली थी तो वह जांच से बचने के लिए अचानक स्टेशन से गायब क्यों हो गया। बताते चले कि बिहार में पिछले दो साल से पूर्ण शराबबंदी कानून लागू है।